108 Names Of Lord Lakshminarasimha

Narasimha Ashtottara Shatanamavali or Narasimha Ashtothram refers to the 108 names of Lord Narasimha that explains several divine names of Lord Narsimha, who is an incarnation of Lord Vishnu and a fierce form who came to destroy Hiranyakashipu in order to save his devotee Prahlada.

No.Name MantraMeaning
1 नृसिंहाय
Narasimhaya
ॐ नृसिंहाय नमः।
Om Narasimhaya Namah।
आधे आदमी आधे शेर भगवान को नमन
Obeisances unto the half-man half-lion Lord
2 महासिंहाय
Mahasimhaya
ॐ महासिंहाय नमः।
Om Mahasimhaya Namah।
महान सिंह को नमन
Obeisances to the great lion
3 दिव्यसिंहाय
Divyasimhaya
ॐ दिव्यसिंहाय नमः।
Om Divyasimhaya Namah।
दिव्य सिंह को नमन
Obeisances to the Divine lion
4 महाबलाय
Mahabalaya
ॐ महाबलाय नमः।
Om Mahabalaya Namah।
अत्यंत शक्तिशाली को नमन
Obeisances to the greatly powerful
5 उग्रसिंहाय
Ugrasimhaya
ॐ उग्रसिंहाय नमः।
Om Ugrasimhaya Namah।
भयानक शेर को नमन
Obeisances to the terrifying lion
6 महादेवाय
Mahadevaya
ॐ महादेवाय नमः।
Om Mahadevaya Namah।
प्रभुओं के प्रभु को नमन
Obeisances to the Lord of lords
7 स्तम्भजाय
Stambhajaya
ॐ स्तम्भजाय नमः।
Om Stambhajaya Namah।
स्तंभ से प्रकट होने वाले को नमन
Obeisances to One Who appeared from the pillar
8 उग्रलोचनाय
Ugralochanaya
ॐ उग्रलोचनाय नमः।
Om Ugralochanaya Namah।
भयानक आँखों वाले व्यक्ति को नमन
Obeisances to One Who possesses terrifying eyes
9 रौद्राय
Raudraya
ॐ रौद्राय नमः।
Om Raudraya Namah।
क्रोधी को प्रणाम
Obeisances to the angry One
10 सर्वाद्भुताय
Sarvadbhutaya
ॐ सर्वाद्भुताय नमः।
Om Sarvadbhutaya Namah।
जो हर तरह से अद्भुत है उसे नमन
Obeisances to One Who is wonderful in every way
11 श्रीमते
Shrimate
ॐ श्रीमते नमः।
Om Shrimate Namah।
सबसे सुंदर को नमन
Obeisances to the most beautiful
12 योगानन्दाय
Yoganandaya
ॐ योगानन्दाय नमः।
Om Yoganandaya Namah।
योग आनंद के स्रोत को नमन
Obeisances to the source of yogic bliss
13 त्रिविक्रमाय
Trivikramaya
ॐ त्रिविक्रमाय नमः।
Om Trivikramaya Namah।
भगवान वामन को प्रणाम (जिन्होंने तीन महान कदम उठाए)
Obeisances to Lord Vamana (Who took three great steps)
14 हरये
Haraye
ॐ हरये नमः।
Om Haraye Namah।
हमारे कष्ट हरने वाले श्री हरि को नमन
Obeisances to Shri Hari Who takes our troubles away
15 कोलाहलाय
Kolahalaya
ॐ कोलाहलाय नमः।
Om Kolahalaya Namah।
गर्जना को नमन (वराहदेव – वराह-नरसिंह)
Obeisances to the roaring (Varahadeva – Varaha-Narasimha)
16 चक्रिणे
Chakrine
ॐ चक्रिणे नमः।
Om Chakrine Namah।
डिस्क को वहन करने वाले को नमन
Obeisances to Him Who carries the disk
17 विजयाय
Vijayaya
ॐ विजयाय नमः।
Om Vijayaya Namah।
जो सदैव विजयी होता है उसे प्रणाम
Obeisances to Him Who is always victorious
18 जयवर्धनाय
Jayavardhanaya
ॐ जयवर्धनाय नमः।
Om Jayavardhanaya Namah।
उसे प्रणाम, जिसकी सदा बढ़ती हुई महिमा है
Obeisances unto Him Who has ever-increasing glories
19 पञ्चाननाय
Panchananaya
ॐ पञ्चाननाय नमः।
Om Panchananaya Namah।
उन्हें नमन जो पांच सिर वाला है
Obeisances unto Him Who is five-headed
20 परब्रह्मणे
Parabrahmane
ॐ परब्रह्मणे नमः।
Om Parabrahmane Namah।
परम पूर्ण सत्य को नमन
Obeisances unto Supreme absolute truth
21 अघोराय
Aghoraya
ॐ अघोराय नमः।
Om Aghoraya Namah।
जो अपने भक्तों के लिए भयानक नहीं है, उन्हें नमन
Obeisances to Him Who for His devotees is not horrible
22 घोरविक्रमाय
Ghoravikramaya
ॐ घोरविक्रमाय नमः।
Om Ghoravikramaya Namah।
उसे नमन जिसके पास भयानक गतिविधियाँ हैं
Obeisances to Him Who has terrifying activities
23 ज्वलन्मुखाय
Jvalanmukhaya
ॐ ज्वलन्मुखाय नमः।
Om Jvalanmukhaya Namah।
दीप्तिमान मुख वाले को प्रणाम
Obeisances to One Who has an effulgent face
24 ज्वालमालिने
Jvalamaline
ॐ ज्वालमालिने नमः।
Om Jvalamaline Namah।
ज्वाला की तेज माला के साथ उन्हें नमन
Obeisances to Him with an effulgent garland of flames
25 महाज्वालाय
Mahajvalaya
ॐ महाज्वालाय नमः।
Om Mahajvalaya Namah।
उसे नमन जो सबसे तेज है
Obeisances to Him Who is most effulgent
26 महाप्रभवे
Mahaprabhave
ॐ महाप्रभवे नमः।
Om Mahaprabhave Namah।
परमपिता परमात्मा को नमन
Obeisances to the Supreme Master
27 निटिलाक्षाय
Nitilakshaya
ॐ निटिलाक्षाय नमः।
Om Nitilakshaya Namah।
सभी अच्छे (नैतिक) गुणों को रखने वाले को नमन
Obeisances to Him Who possesses all good (moral) qualities
28 सहस्राक्षाय
Sahasrakshaya
ॐ सहस्राक्षाय नमः।
Om Sahasrakshaya Namah।
हजार-आंखों वाले को नमन
Obeisances to the thousand-eyed One
29 दुर्निरीक्ष्याय
Durnirikshyaya
ॐ दुर्निरीक्ष्याय नमः।
Om Durnirikshyaya Namah।
जिसे देखना कठिन है उसे प्रणाम
Obeisances to Him Who is difficult to see
30 प्रतापनाय
Pratapanaya
ॐ प्रतापनाय नमः।
Om Pratapanaya Namah।
उसे नमन जो अपने शत्रुओं पर बड़ी गर्मी से ज़ुल्म करता है
Obeisances to Him Who oppresses His enemies with great heat
31 महादंष्ट्रायुधाय Mahadanshtrayudhaya ॐ महादंष्ट्रायुधाय नमः।
Om Mahadanshtrayudhaya Namah।
विशाल दांत रखने वाले को नमन
Obeisances to Him Who possesses huge teeth
32 प्राज्ञाय
Pragyaya
ॐ प्राज्ञाय नमः।
Om Pragyaya Namah।
युद्ध में परम बुद्धिमान को नमन
Obeisances to the supremely intelligent in battle
33 चण्डकोपिने
Chandakopine
ॐ चण्डकोपिने नमः।
Om Chandakopine Namah।
उसे प्रणाम, जिसकी तुलना क्रोधित चंद्रमा से की जाती है
Obeisances to Him Who is likened to an angry moon
34 सदाशिवाय
Sadashivaya
ॐ सदाशिवाय नमः।
Om Sadashivaya Namah।
सभी शुभ भगवान को नमन
Obeisances to the all auspicious Lord
35 हिरण्यकशिपुध्वंसिने Hiranyakashipudhvansine ॐ हिरण्यकशिपुध्वंसिने नमः।
Om Hiranyakashipudhvansine Namah।
हिरण्यकश्यप का नाश करने वाले को प्रणाम
Obeisance to Him Who destroys Hiranyakashipu
36 दैत्यदानवभञ्जनाय Daityadanavabhanjanaya ॐ दैत्यदानवभञ्जनाय नमः।
Om Daityadanavabhanjanaya Namah।
Obeisances to Him Who उन्हें नमन जो राक्षसों और दानवों की जाति के जनसमूह को नष्ट कर देता है
destroys the masses of the race of demons and giants
37 महाभद्राय
Gunabhadraya
ॐ गुणभद्राय नमः।
Om Gunabhadraya Namah।
अद्भुत गुणों से परिपूर्ण नरसिंह को नमन
Obeisances unto Narasimha Who is full of wonderful qualities
38 महाभद्राय
Mahabhadraya
ॐ महाभद्राय नमः।
Om Mahabhadraya Namah।
उनको नमन जो बहुत शुभ है
Obeisances to Him Who is very auspicious
39 महाभद्राय
Balabhadraya
ॐ महाभद्राय नमः।
Om Balabhadraya Namah।
जो शुभ रूप से शक्तिशाली है उसे नमन
Obeisances to Him Who is auspiciously powerful
40 सुभद्रकाय
Subhadrakaya
ॐ सुभद्रकाय नमः।
Om Subhadrakaya Namah।
अत्यंत शुभ एक को नमन
Obeisances to the extremely auspicious One
41 करालाय
Karalaya
ॐ करालाय नमः।
Om Karalaya Namah।
खुले मुंह वाले को प्रणाम
Obeisances to He Who possesses a wide open mouth
42 विकरालाय
Vikaralaya
ॐ विकरालाय नमः।
Om Vikaralaya Namah।
बड़े खुले मुख से उनको प्रणाम
Obeisances to Him with very wide open mouth
43 विकर्त्रे
Vikartre
ॐ विकर्त्रे नमः।
Om Vikartre Namah।
अद्भुत कार्य करने वाले भगवान को प्रणाम
Obeisances to the Lord Who performs wonderful activities
44 सर्वकर्तृकाय
Sarvakartrikaya
ॐ सर्वकर्तृकाय नमः।
Om Sarvakartrikaya Namah।
प्रभु को प्रणाम करने से सभी कार्य होते हैं
Obeisances to the Lord performs all activities
45 शिंशुमाराय
Shinshumaraya
ॐ शिंशुमाराय नमः।
Om Shinshumaraya Namah।
उन्हें नमन जो मत्स्य के रूप में भी प्रकट होते हैं
Obeisances to Him Who also appears as Matsya
46 त्रिलोकात्मने
Trilokatmane
ॐ त्रिलोकात्मने नमः।
Om Trilokatmane Namah।
तीनों लोकों की आत्मा को नमन
Obeisances to the Soul of the three worlds
47 ईशाय
Ishaya
ॐ ईशाय नमः।
Om Ishaya Namah।
नियंत्रक के रूप में जाने जाने वाले प्रभु को प्रणाम
Obeisances to the Lord known as the controller
48सर्वेश्वराय
Sarveshvaraya
ॐ सर्वेश्वराय नमः।
Om Sarveshvaraya Namah।
उस सर्वोच्च नियंत्रक को प्रणाम
Obeisances to that supreme controller
49 विभवे
Vibhave
ॐ विभवे नमः।
Om Vibhave Namah।
नरसिम्हा को नमन कौन है श्रेष्ठ
Obeisances to Narasimha Who is the best
50 भैरवाडम्बराय Bhairavadambaraya ॐ भैरवाडम्बराय नमः।
Om Bhairavadambaraya Namah।
उसे नमन जो आकाश में गरज कर दहशत फैलाता है
Obeisances to Him Who causes terror by roaring in the sky
51 दिव्याय
Divyaya
ॐ दिव्याय नमः।
Om Divyaya Namah।
उस दिव्य नरसिंह को नमन
Obeisances to that Divine Narasimha
52 अच्युताय
Achyutaya
ॐ अच्युताय नमः।
Om Achyutaya Namah।
हमारे अचूक भगवान नरसिंह को नमन
Obeisances to our infallible Lord Narasimha
53 कविमाधवाय
Kavimadhavaya
ॐ कविमाधवाय नमः।
Om Kavimadhavaya Namah।
कवि और श्री लक्ष्मी के पति को नमन
Obeisances to the poet and the husband of Shri Lakshmi
54 अधोक्षजाय
Adhokshajaya
ॐ अधोक्षजाय नमः।
Om Adhokshajaya Namah।
उसे नमन जो समझ से परे है (या समझाने से परे)
Obeisances to Him Who is beyond understanding (or beyond explaining)
55अक्षराय
Aksharaya
ॐ अक्षराय नमः।
Om Aksharaya Namah।
अचूक को नमन
Obeisances to the infallible One
56शर्वाय
Sharvaya
ॐ शर्वाय नमः।
Om Sharvaya Namah।
उन्हें नमन जो हर चीज का मूल है
Obeisances to Him Who is the origin of everything
57वनमालिने
Vanamaline
ॐ वनमालिने नमः।
Om Vanamaline Namah।
वन पुष्पों की माला धारण करने वाले को नमन
Obeisances to Him Who wears a garland of forest flowers
58 वरप्रदाय
Varapradaya
ॐ वरप्रदाय नमः।
Om Varapradaya Namah।
प्रह्लाद जैसे पात्र को वरदान देने वाले दयालु भगवान को प्रणाम
Obeisances to the merciful Lord Who grants boons to the deserving like Prahlada
59 विश्वम्भराय
Vishvambharaya
ॐ विश्वम्भराय नमः।
Om Vishvambharaya Namah।
ब्रह्मांड को बनाए रखने वाले नरसिंह को नमन
Obeisances to Narasimha Who maintains the universe
60 अद्भुताय
Adbhutaya
ॐ अद्भुताय नमः।
Om Adbhutaya Namah।
उसे नमन जो अद्भुत है
Obeisances to Him Who is wonderful
61 भव्याय
Bhavyaya
ॐ भव्याय नमः।
Om Bhavyaya Namah।
भविष्य का निर्धारण करने वाले को नमन
Obeisances to Him Who determines the future
62 श्रीविष्णवे
Shrivishnave
ॐ श्रीविष्णवे नमः।
Om Shrivishnave Namah।
उस नरसिंह को प्रणाम, जो सर्वव्यापी भगवान विष्णु हैं
Obeisances to that Narasimha Who is the all-pervading Lord Vishnu
63 पुरुषोत्तमाय
Purushottamaya
ॐ पुरुषोत्तमाय नमः।
Om Purushottamaya Namah।
नरसिंह को नमन जो परम भोक्ता हैं
Obeisances to Narasimha Who is the supreme enjoyer
64 अनघास्त्राय
Anaghastraya
ॐ अनघास्त्राय नमः।
Om Anaghastraya Namah।
उसे नमन जो कभी भी शस्त्रों से घायल नहीं हो सकता
Obeisances to Him Who can never be wounded by weapons
65नखास्त्राय
Nakhastraya
ॐ नखास्त्राय नमः।
Om Nakhastraya Namah।
शस्त्रों के लिए नुकीले नाखून रखने वाले को नमन
Obeisances to Him Who has sharp nails for weapons
66सूर्यज्योतिषे
Suryajyotishe
ॐ सूर्यज्योतिषे नमः।
Om Suryajyotishe Namah।
नरसिंह को नमन जो सूर्य की किरणों के स्रोत हैं
Obeisances to Narasimha Who is the source of Sun’s rays
67सुरेश्वराय
Sureshvaraya
ॐ सुरेश्वराय नमः।
Om Sureshvaraya Namah।
देवताओ के भगवान नरसिंहदेव को नमन
Obeisances to Narasimhadev, Lord of Devatas
68सहस्रबाहवे
Sahasrabahave
ॐ सहस्रबाहवे नमः।
Om Sahasrabahave Namah।
नर-हरि को शत शत नमन
Obeisances to Nara-Hari the thousand-armed Lord
69सर्वज्ञाय
Sarvagyaya
ॐ सर्वज्ञाय नमः।
Om Sarvagyaya Namah।
उसे नमन जो सर्वज्ञ है
Obeisances to Him Who is the all-knowing
70 सर्वसिद्धिप्रदायकाय Sarvasiddhipradayakaya ॐ सर्वसिद्धिप्रदायकाय नमः।
Om Sarvasiddhipradayakaya Namah।
उन्हें नमन जो साधकों (भक्तों) को सभी सिद्धियाँ प्रदान करते हैं
Obeisances to Him Who awards all perfections to the Sadhakas (devotees)
71 वज्रदंष्ट्राय
Vajradanshtraya
ॐ वज्रदंष्ट्राय नमः।
Om Vajradanshtraya Namah।
बिजली के बोल्ट जैसे दांत वाले नरसिंह को नमन
Obeisances to Narasimha Who has teeth like lightning bolts
72 वज्रनखाय
Vajranakhaya
ॐ वज्रनखाय नमः।
Om Vajranakhaya Namah।
नरसिम्हा को नमन जिनके पास बिजली के बोल्टों की तरह नाखून हैं
Obeisances to Narasimha Who possesses nails like piercing lightning bolts
73महानन्दाय
Mahanandaya
ॐ महानन्दाय नमः।
Om Mahanandaya Namah।
परम आनंद के स्रोत को नमन
Obeisances to the source of supreme bliss
74 परन्तपाय
Parantapaya
ॐ परन्तपाय नमः।
Om Parantapaya Namah।
सभी तपस्याओं के स्रोत, आध्यात्मिक ऊर्जा को नमन
Obeisances to the source of all austerities, spiritual energy
75 सर्वयन्त्रैकरूपाय Sarvayantraikarupaya ॐ सर्वयन्त्रैकरूपाय नमः।
Om Sarvayantraikarupaya Namah।
उस दिव्य व्यक्तित्व को प्रणाम जो एक होते हुए भी अनेक मंत्रिका सूत्रों के रूप में प्रकट होते हैं
Obeisances to that Divine personality Who although one, he appears as the many Mantrika formulas
76 सर्वयन्त्रविदारणाय Sarvayantravidaranaya ॐ सर्वयन्त्रविदारणाय नमः।
Om Sarvayantravidaranaya Namah।
सभी मशीनों को नष्ट करने वाले को नमन
Obeisances to Him Who destroys all machines
77 सर्वतन्त्रात्मकाय Sarvatantratmakaya ॐ सर्वतन्त्रात्मकाय नमः।
Om Sarvatantratmakaya Namah।
नरसिंह को प्रणाम, सभी तंत्रों का सार और स्वामी
Obeisances to Narasimha the essence of, and proprioter of all Tantras
78अव्यक्ताय
Avyaktaya
ॐ अव्यक्ताय नमः।
Om Avyaktaya Namah।
अव्यक्त प्रकट होने वाले प्रभु को प्रणाम
Obeisances to the Lord Who appears unmanifest
79 सुव्यक्ताय
Suvyaktaya
ॐ सुव्यक्ताय नमः।
Om Suvyaktaya Namah।
नृसिंह को नमन जो अपने भक्तों के लिए स्तंभ से आश्चर्यजनक रूप से प्रकट होते हैं
Obeisances unto Narasimha Who for His devotees becomes wonderfully manifest from the pillar
80 भक्तवत्सलाय
Bhaktavatsalaya
ॐ भक्तवत्सलाय नमः।
Om Bhaktavatsalaya Namah।
भगवान को नमन जिनके दिल में हमेशा अपने भक्त का कल्याण होता है
Obeisances to the Lord Who always has the well-being of His devotee at heart
81 वैशाखशुक्लभूतोत्थाय Vaishakhashuklabhutotthaya ॐ वैशाखशुक्लभूतोत्थाय नमः।
Om Vaishakhashuklabhutotthaya Namah।
उस नरसिंहदेव को नमन जो वैशाख मास के शुक्ल पक्ष में प्रकट हुए थेObeisances to that Narasimhadeva Who appeared during waxing moon of the month of Vaishakha
82 शरणागतवत्सलाय Sharanagatavatsalaya ॐ शरणागतवत्सलाय नमः।
Om Sharanagatavatsalaya Namah।
भगवान को नमन जो उनके प्रति समर्पित हैं
Obeisances to the Lord Who is kind to those surrendered to Him
83 उदारकीर्तये
Udarakirtaye
ॐ उदारकीर्तये नमः।
Om Udarakirtaye Namah।
नरसिम्हा को नमन जो सर्वत्र प्रसिद्ध हैं
Obeisances to Narasimha Who is universally famous
84 पुण्यात्मने
Punyatmane
ॐ पुण्यात्मने नमः।
Om Punyatmane Namah।
उनको प्रणाम जो धर्मपरायणता का सार है
Obeisances to Him Who is the essence of piety
85 महात्मने
Mahatmane
ॐ महात्मने नमः।
Om Mahatmane Namah।
उस महान व्यक्तित्व को नमन, नरसिंह:
Obeisances to that great personality, Narasimha
86 चण्डविक्रमाय Chandavikramaya ॐ चण्डविक्रमाय नमः।
Om Chandavikramaya Namah।
जो चंद्रमा के समान या महान कर्मों का कर्ता है, या जो अन्य सभी को ग्रहण करने वाले कर्म करता है, उसे प्रणाम
Obeisances to Him Who is the performer of moonlike or great deeds, or who performs deeds that eclipse all others
87 वेदत्रयप्रपूज्याय Vedatrayaprapujyaya ॐ वेदत्रयप्रपूज्याय नमः।
Om Vedatrayaprapujyaya Namah।
तीन मूल वेदों (ऋग्, यजुर, साम) के भगवान को नमन
Obeisances to the Lord of the three original Vedas (Rig, Yajur, Sama)
88 भगवते
Bhagavate
ॐ भगवते नमः।
Om Bhagavate Namah।
नरसिंह को नमन जो परम पूजनीय हैं
Obeisances to Narasimha Who is supremely worshipable
89 परमेश्वराय
Parameshvaraya
ॐ परमेश्वराय नमः।
Om Parameshvaraya Namah।
भगवान के सर्वोच्च व्यक्तित्व नरसिंह को नमन
Obeisances to Narasimha the supreme personality of Godhead
90 श्रीवत्साङ्काय Shrivatsangkaya ॐ श्रीवत्साङ्काय नमः।
Om Shrivatsangkaya Namah।
जो सर्वोच्च नियंत्रक है (नरसिंहदेव) को प्रणाम
Obeisances to Him Who is the supreme controller (Narasimhadeva)
91 श्रीनिवासाय
Shrinivasaya
ॐ श्रीनिवासाय नमः।
Om Shrinivasaya Namah।
भगवान को नमन, जो कृष्ण के समान हैं, जिन्हें लक्ष्मी के प्रतीक के रूप में चिह्नित किया गया है
Obeisances to the Lord Who is just like Krishna, being marked with the symbol of Lakshmi
92 जगद्व्यापिने
Jagadvyapine
ॐ जगद्व्यापिने नमः।
Om Jagadvyapine Namah।
पूरे ब्रह्मांड में व्याप्त नरसिंह को नमन
Obeisances to Narasimha Who pervades the entire universe
93 जगन्मयाय
Jaganmayaya
ॐ जगन्मयाय नमः।
Om Jaganmayaya Namah।
भौतिक जगत को वास्तविक बनाने वाले परम रहस्यवादी को प्रणाम
Obeisances to the supreme mystic Who makes the material world seem real
94 जगत्पालाय
Jagatpalaya
ॐ जगत्पालाय नमः।
Om Jagatpalaya Namah।
ब्रह्मांड के रक्षक (नरसिंह) को नमन
Obeisances to the protector of the universe (Narasimha)
95 जगन्नाथाय
Jagannathaya
ॐ जगन्नाथाय नमः।
Om Jagannathaya Namah।
ब्रह्मांड के भगवान को नमन
Obeisances to the Lord of universe
96 महाकायाय
Mahakayaya
ॐ महाकायाय नमः।
Om Mahakayaya Namah।
हवा में या हवा की गति के साथ चलने वाले को नमन
Obeisances to Him Who moves in the air or with the movement of the air
97 द्विरूपभृते
Dvirupabhrite
ॐ द्विरूपभृते नमः।
Om Dvirupabhrite Namah।
उसे नमन जिसका दोहरा रूप है (मनुष्य-शेर)
Obeisances to Him Who has a double form (man-lion)
98परमात्मने
Paramatmane
ॐ परमात्मने नमः।
Om Paramatmane Namah।
उन्हें नमन जो सभी प्राणियों के परमात्मा हैं
Obeisances to Him Who is the Supersoul of all beings
99परंज्योतिषे
Paramjyotishe
ॐ परंज्योतिषे नमः।
Om Paramjyotishe Namah।
जिसकी दीप्ति ब्राह्मण का स्रोत है, उसे प्रणाम
Obeisances to Him Whose effulgence is the source of Brahman
100निर्गुणाय
Nirgunaya
ॐ निर्गुणाय नमः।
Om Nirgunaya Namah।
नृसिंह को प्रणाम जिनके पास दिव्य गुण हैं (भौतिक प्रकृति के नहीं)
Obeisances to Narasimha Who possesses transcendental qualities (not those of the material nature)
101 नृकेसरिणे
Nrikesarine
ॐ नृकेसरिणे नमः।
Om Nrikesarine Namah।
मनुष्य-शेर को प्रणाम (या मानव का भाग होते हुए सिंह का अयाल होना)
Obeisances unto Him man-lion (or having a lion’s mane while appearing part human)
102 परतत्त्वाय
Paratattvaya
ॐ परतत्त्वाय नमः।
Om Paratattvaya Namah।
परम परम सत्य को नमन
Obeisances to the supreme absolute truth
103 परंधाम्ने
Paramdhamne
ॐ परंधाम्ने नमः।
Om Paramdhamne Namah।
परमधाम से आने वाले को प्रणाम
Obeisances to He Who comes from the supreme abode
104 सच्चिदानन्दविग्रहाय Sachchidanandavigrahaya ॐ सच्चिदानन्दविग्रहाय नमः।
Om Sachchidanandavigrahaya Namah।
नरसिंह को प्रणाम, जिनका रूप शाश्वत ज्ञान और आनंद से बना है
Obeisances to Narasimha Whose form is made of eternal knowledge and bliss
105 लक्ष्मीनृसिंहाय Lakshminrisimhaya ॐ लक्ष्मीनृसिंहाय नमः।
Om Lakshminrisimhaya Namah।
भाग्य की सर्वोच्च देवी श्री लक्ष्मी के साथ पुरुष-सिंह रूप को नमन
Obeisances unto the Man-lion form together with the supreme goddess of fortune Shri Lakshmi
106 सर्वात्मने Sarvatmane ॐ सर्वात्मने नमः।
Om Sarvatmane Namah।
सार्वभौम, आदिम आत्मा को नमन
Obeisances unto the universal, primeval soul
107 धीराय
Dhiraya
ॐ धीराय नमः।
Om Dhiraya Namah।
नरसिम्हा को नमन जो हमेशा शांत रहते हैं (कभी भ्रमित नहीं होते)
Obeisances unto Narasimha Who is always sober (being never bewildered)
108 प्रह्लादपालकाय Prahladapalakaya ॐ प्रह्लादपालकाय नमः।
Om Prahladapalakaya Namah।
नरसिंह को नमन जो प्रह्लाद के रक्षक हैं
Obeisances unto Narasimha Who is the protector of Prahlada

॥ इति श्रीनृसिंहाष्टोत्तरशतनामावली सम्पूर्णा ॥

॥ Iti Sri Narasimha-Ashtottarashata-Namavali ॥

5/5 - (1 vote)